हस्ताक्षर : मासिक साहित्यिक वेब पत्रिका
प्रज्ञा प्रकाशन, सांचोर द्वारा प्रकाशित
जून 2018
अंक -44

प्रधान संपादक : के.पी. 'अनमोल'
संस्थापक एवं संपादक: प्रीति 'अज्ञात'
तकनीकी संपादक : मोहम्मद इमरान खान

संपादकीय
ये सूची कब ख़त्म होगी?   मंदसौर की सम्पूर्ण घटना का विवरण इतना क्रूर और जघन्य है कि उसे बोलते समय आपकी ज़बान साथ छोड़ देती है। शब्द लड़खड़ाकर न बोले जाने की भीख माँगते हैं। पूरा शरीर काँपने लगता है और उस मासूम बच्ची की पीड़ा को महसूस कर हृदय चीत्कार कर उठता है।  यक़ीन मानिये इसे पढ़ते-सुनते समय आप दुःख और ग्लानि के इतने गहरे समंदर में डूब जाते हैं कि इस समाज में अपने होने का अर्थ एवं औचित्य तलाशने लगते हैं। अनायास ही उन तमाम खिलखिलाते बच्चों के चेहरे आँखों में घूमने लगते हैं, जिन्हें इस दुनिया के सुन्दर होने पर अब भी भरोसा है। जो अब भी बाग़ में खिलते फूलों पर भटकती तितलियों को देख हँसते हुए ....
 
Share
इस अंक में ......

आवरण: डॉ. कामरान ख़ान

हस्ताक्षर
कविता-कानन
ग़ज़ल-गाँव
गीत-गंगा
कथा-कुसुम
आलेख/विमर्श
छंद-संसार
जो दिल कहे
भाषांतर
मूल्यांकन
धरोहर
ख़बरनामा
व्यंग्य
हाइकु
उभरते स्वर
बाल-वाटिका
ज़रा सोचिए!
संस्मरण
फिल्म समीक्षा
जयतु संस्कृतम्
धारावाहिक