सितम्बर 2016
अंक - 18 | कुल अंक - 63
प्रज्ञा प्रकाशन, सांचोर द्वारा प्रकाशित

प्रधान संपादक : के.पी. 'अनमोल'
संस्थापक एवं संपादक: प्रीति 'अज्ञात'
तकनीकी संपादक : मोहम्मद इमरान खान

हायकु

हाइकु (शिक्षक दिवस पर विशेष)
 


नमन करें
आओ गुरुजनों को
दामन भरें



असीम ज्ञान
निस्वार्थ भावना से
देते हैं शिक्षा



कण-कण में
स्थूल-सूक्ष्म के बीच
बाँटते ज्ञान



हे मन! सुनो
गुरु ज्ञान के बिना
जीवन व्यर्थ



ज्ञान विहीन
रहता है मानव
अधमरा-सा



मेहर गुरु की
बरसे बारिश-सी
मिले संतुष्टि



करो सम्मान
झुकाओ मस्तक को
बनो विद्वान



गुरु चरण
अर्पित करें फूल
साक्षर बनें



गुरु शरण
मिले ज्ञान की दृष्टि
मन संचार


सत्कर्म से ही
पाते उच्च मुकाम
महान गुरु



शिक्षक हमें
अनुभव सार से
देते हैं सीख



अँधियारे से
गुरु करते सचेत
दें दिव्य ज्ञान



हाथ की रेखा
बदले किस्मत को
गुरु का ज्ञान



दिखाते राह
ले जाते उजालों में
गुरु हमेशा


- डॉ. पूर्णिमा राय

रचनाकार परिचय
डॉ. पूर्णिमा राय

पत्रिका में आपका योगदान . . .
छंद-संसार (2)हाइकु (1)