दिसम्बर 2020
अंक - 65 | कुल अंक - 66
प्रज्ञा प्रकाशन, सांचोर द्वारा प्रकाशित

प्रधान संपादक : के.पी. 'अनमोल'
संस्थापक एवं संपादक: प्रीति 'अज्ञात'
तकनीकी संपादक : मोहम्मद इमरान खान

हाइकु

पर्यावरण' पर कुछ हाइकु

बन रहे हैं
बहु मंजिले मकान
पेड़ निराश।


**********

पेड़ समाप्त
पक्षी को ठौर नहीं
बैचैनी-प्यास।


**********

वृक्ष कटते
बंजर, सूखा, बाढ़
कैसा सौगात!


**********

बंजर भूमि
सजग हुए हम
चमन बना।


**********

सिर्फ उदासी
मिल पायी तुझको
मुझे काट के।


**********

मुझे बचाओ
वृक्ष करे पुकार
आयी आवाज।


**********

सहेजे रखो
प्रकृति ने दिया
इतना कुछ।


**********

लता पेड़ से
रखे जो संबंध
हम क्यों नहीं।


**********

बस्ती के बीच
हरे-भरे पेड़ थे
सभी सुखी थे।


**********

मानव धर्म
ठीक रहे हमारा
पर्यावरण।


- प्रभात कुमार धवन

रचनाकार परिचय
प्रभात कुमार धवन

पत्रिका में आपका योगदान . . .
हाइकु (1)