सितम्बर 2020
अंक - 63 | कुल अंक - 63
प्रज्ञा प्रकाशन, सांचोर द्वारा प्रकाशित

प्रधान संपादक : के.पी. 'अनमोल'
संस्थापक एवं संपादक: प्रीति 'अज्ञात'
तकनीकी संपादक : मोहम्मद इमरान खान

जयतु संस्कृतम्
संस्कृत बाल-गीतम्
 
वर्षा-गीतम्
 
वर्षति मेघ: हर्षति कृषक:
नृत्यति केकी रम्य- वने।
 
चपला चपलति भवति गर्जनम्
कम्पति हृदयं क्षणे-क्षणे।।
 
वृक्षस्योपरि वर्षा-तोयं
'टप्' -'टप्' इति करोति शब्दम्
 
नवलकान्तया राजन्ति वृक्षा:
विलसति सुषमा पुरे-पुरे।
 
वीथौ-वीथौ जलमाधिक्यं
बालानां मनसि आनन्दम्
 
तारयन्ति ते सलिले नौका
पत्रं -नौका  श्वेतानौका
सज्जति नौका गृहे-गृहे।।
 
******************************
 
सरस्वती वंदना
 
विद्या सलिले विवेकहंसे
हंसे सीदति सरस्वती।
मालाध्यानप्रतीकं हस्ते
पुस्तकज्ञानं दर्शयति।।
 
मानसताले संचरणं ते
भवतु सर्वदा याचाम:
विद्यालोभी वयं मिलित्वा
शिक्षाशालां गच्छाम:।।
 
श्वेतशाटिका श्वेतं कमलं
श्वेत:हंस: शुभ्रमन:।
वीणावादिनि ददातु विद्यां
नमन्ति चरणौ शिष्यगण:।।

- मोती प्रसाद साहू

रचनाकार परिचय
मोती प्रसाद साहू

पत्रिका में आपका योगदान . . .
कविता-कानन (2)कथा-कुसुम (1)जयतु संस्कृतम् (1)