प्रज्ञा प्रकाशन, सांचोर द्वारा प्रकाशित
अप्रैल 2017
अंक -35

प्रधान संपादक : के.पी. 'अनमोल'
संस्थापक एवं संपादक: प्रीति 'अज्ञात'
तकनीकी संपादक : मोहम्मद इमरान खान

ख़बरनामा

कश्मीर विश्वविद्यालय में 'हिंदी का वैश्विक परिप्रेक्ष्य: भाषा एवं साहित्य' विषयक संगोष्ठी का आयोजन

 

 

बुधवार, 29 मार्च 2017 को कश्मीर विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग द्वारा गाँधी भवन में दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी का विषय था- 'हिंदी का वैश्विक परिप्रेक्ष्य: भाषा एवं साहित्य' इस अवसर पर स्वागत भाषण प्रो. जोहरा अफज़ल (अध्यक्षा, हिंदी विभाग) ने दिया। विशिष्ट अतिथि डॉ. रफीक मसूदी थे, बीज वक्तव्य प्रो. विनोद कुमार तनेजा ने दिया।

अध्यक्षीय भाषण प्रो. खुर्शीद इकबाल इन्द्राबी (कुलपति, कश्मीर विश्वविद्यालय, श्रीनगर) ने दिया। आपने हिंदी विभाग को हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर कश्मीर के युवा कवि और हस्ताक्षर परिवार के सदस्य मुदस्सिर अहमद भट्ट के काव्य संग्रह 'स्वर्ग-विराग' का विमोचन भी किया गया। धन्यवाद प्रस्ताव प्रो. दिलशाद जीलानी ने रखा।

कश्मीर विश्वविद्यालय के अन्य विभागों से तथा देश के विभिन्न राज्यों से आये हुए अध्यापकों एवं शोधार्थियों ने इस संगोष्ठी में भाग लिया। दूसरे सत्र में प्रो. परमेश्वरी, प्रो. मीना कौल, डॉ. भारतेन्दु कुमार पाठक, सकीना अख्तर तथा मुदस्सिर अहमद भट्ट ने अपने शोध आलेख प्रस्तुत किए।

कश्मीर के विभिन्न जिलों से आये हुए विद्यार्थियों तथा हिंदी विभाग के शोधार्थियों ने संगोष्ठी के दूसरे दिन अपने आलेख प्रस्तुत किये।


- सुरेन बिश्नोई