हस्ताक्षर रचना
प्रज्ञा प्रकाशन, सांचोर द्वारा प्रकाशित
फरवरी 2018
अंक -41

प्रधान संपादक : के.पी. 'अनमोल'
संस्थापक एवं संपादक: प्रीति 'अज्ञात'
तकनीकी संपादक : मोहम्मद इमरान खान

जयतु संस्कृतम्
माहिया लोकिकछन्दे
 
1.
 
मा ब्रूहि हीन वचाः
पश्यतु मम उरसि
ब्रणमभवत तव वचसा।।
 
2.
 
कति पुत्राः कति भ्राताः
को$पि न तव मित्रम्
ममतामयि हि माता...
 
3.
 
स्वभावे यदि ऋजुता
हास्यमयि वाणी
संसारे न हि रिपुता।।
 
4.
 
सम्प्राप्ते संकाले
भज गोविन्दम् भज
माबद्ध भव जाले....
 

- दिलीप वसिष्ठ
 
रचनाकार परिचय
दिलीप वसिष्ठ

पत्रिका में आपका योगदान . . .
कविता-कानन (2)हाइकु (1)जयतु संस्कृतम् (1)