प्रज्ञा प्रकाशन, सांचोर द्वारा प्रकाशित
नवम्बर 2017
अंक -53

प्रधान संपादक : के.पी. 'अनमोल'
संस्थापक एवं संपादक: प्रीति 'अज्ञात'
तकनीकी संपादक : मोहम्मद इमरान खान

जयतु संस्कृतम्
हायकु
 
1
 
मा चिन्तयतु
अागता विपदपि
शिक्षयति माम् |
 
2
 
अर्णवरोधौ
आवाम् यत्र वहति
जलस्नेहस्तु |
 
3
 
इहलोकस्य
व्यवहारः न मन्ये
द्युक्षो तु अहम् |
 
4
 
चन्द्रोदये हि
समुद्रमिव हरः
कामेन हतः|
 
5
 
ये तु नूतनां
रीतिं न स्वीकुर्वन्ति
न हि ते वृद्धाः|

- डॉ. रंजन जोषी
 
रचनाकार परिचय
डॉ. रंजन जोषी

पत्रिका में आपका योगदान . . .
जयतु संस्कृतम् (1)