हस्ताक्षर : मासिक साहित्यिक वेब पत्रिका
प्रज्ञा प्रकाशन, सांचोर द्वारा प्रकाशित
मार्च 2017
अंक -24

प्रधान संपादक : के.पी. 'अनमोल'
संस्थापक एवं संपादक: प्रीति 'अज्ञात'
तकनीकी संपादक : मोहम्मद इमरान खान

संपादकीय
संघर्ष..........अभी जारी है!   साहित्य की समृद्धि में महिलाओं की क्या भूमिका है? इस विषय पर जब भी मनन करती हूँ तो यही अनुभूति होती है कि महिला साहित्यकारों की बात तो बाद का किस्सा है। साहित्य की समृद्धि के लिए तो महिलाओं की इस दुनिया में मौजूदगी ही काफी है। सोचिये, अगर स्त्री न होती तो साहित्य कैसे जन्मता? प्रेम कविताएँ कैसे रची जातीं? किसकी विरह वेदना का मान होता? कौन कविताओं का श्रृंगार बनता और कैसे माँ का जय-जय गान होता? कैसे घर-परिवार और रिश्तों की कहानियाँ जन्म लेतीं? किसके नख-शिख का वर्णन होता? चाँद से किसकी तुलना होती और किसकी ज़ुल्फ़ों-सी घटा ....
 
Share
इस अंक में ......

आवरण: साभार गूगल

हस्ताक्षर
कविता-कानन
ग़ज़ल-गाँव
गीत-गंगा
कथा-कुसुम
आलेख/विमर्श
छंद-संसार
जो दिल कहे
ख़ास-मुलाक़ात
मूल्यांकन
ख़बरनामा
व्यंग्य
उभरते स्वर
बाल-वाटिका
ज़रा सोचिए!
संस्मरण
नाटक
यात्रा वृत्तांत
फिल्म समीक्षा