हस्ताक्षर : मासिक साहित्यिक वेब पत्रिका
प्रज्ञा प्रकाशन, सांचोर द्वारा प्रकाशित
जुलाई 2019
अंक -51

प्रधान संपादक : के.पी. 'अनमोल'
संस्थापक एवं संपादक: प्रीति 'अज्ञात'
तकनीकी संपादक : मोहम्मद इमरान खान

भागती हुई लडकियाँ
भागती हुई लडकियाँ   इस दौर की सबसे बड़ी समस्या यह है कि एक घटना घटी नहीं कि आम आदमी से लेकर समस्त मीडिया जगत न्यायाधीश की कुर्सी पर विराजमान हो जाता है। उस पर प्रेमी युगल के घर से भागने का किस्सा हो तो अंधाधुंध विचारों के शुष्क अंधड़ चलने लगते हैं। हमारी सामाजिक व्यवस्थानुसार यह भी लगभग तय ही है कि इस स्थिति में सारी लानतें-मलानतें लड़की के हिस्से में ही आयेंगी। तथाकथित इज़्ज़त भी उसी के परिवार की जायेगी और बदनामी के सारे दाग़ उस घर की दीवारों पर सदा के लिए छप जायेंगे! पिता भी उसी घर का आहत होगा और माँ भी मारे शर्म के घर से निकलना बंद कर देगी। लड़कों की तो कोई इज़्ज़त होती ही कहाँ है! उन्हें तो इज़्ज़त उछालने का हुनर आता है। बंदूक ....
 
Share
इस अंक में ......

आवरण: सौम्या

हस्ताक्षर
कविता-कानन
ग़ज़ल-गाँव
गीत-गंगा
कथा-कुसुम
आलेख/विमर्श
छंद-संसार
जो दिल कहे
मूल्यांकन
धरोहर
ख़बरनामा
हाइकु
उभरते स्वर
ज़रा सोचिए!
विशेष
यादें!
संस्मरण
यात्रा वृत्तांत
फ़िल्म समीक्षा
जयतु संस्कृतम्
धारावाहिक
आवरण